मिनी बस से बचने के लिए हटी पीछे, फंसी साड़ी को गन्ने की मशीन ने खींचा | Turned back to avoid the mini bus, sugarcane machine pulled the stuck saree


जयपुर22 मिनट पहले

SMS हॉस्पिटल के सामने जुगाड़ गाड़ी में लगे पट्‌टे और मशीन के बीच सुशीला देवी का सिर फंसने से मौत हो गई।

जयपुर के SMS हॉस्पिटल के सामने गन्ने की मशीन (जुगाड़) ने एक बुजुर्ग महिला की जान ले ली। ओवर स्पीड मिनी बस से बचने की कोशिश में उसकी साड़ी जुगाड़ के पट्टे में फंस गई। पट्टे और मशीन के बीच सिर फंसने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। SMS हॉस्पिटल थाना पुलिस ने गुरुवार दोपहर पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया। पुलिस ने मिनी बस और जुगाड़ को जब्त कर लिया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

मिनी बस से बचने के लिए सुशीला पीछे हटी तो उसकी साड़ी गन्ने की मशीन लगे जुगाड़ के पट्‌टे में फंस गई और उसका सिर उसमें फंसने से मौत हो गई।

SHO नवतरन धोलिया ने बताया कि मृतका की पहचान कल्लावाला बालाजी विहार निवासी सुशीला देवी (70) के रूप में हुई। बुधवार दोपहर वह SMS हॉस्पिटल में दवा लेने आई थी। दोपहर करीब 3 बजे सुशीला SMS हॉस्पिटल के गेट नंबर-3 के पास स्थित बस स्टेण्ड पर खड़ी थी। इसी दौरान अजमेरी गेट की ओर से ओवर स्पीड मिनी बस आई। बस से बचने के लिए वह पीछे हटी तो उसकी साड़ी पास ही खड़ी गन्ने की मशीन (जुगाड़) के पट्टे में फंस गई।

SMS हॉस्पिटल थाना पुलिस ने मिनी बस और जुगाड़ को जब्त कर जांच शुरू कर दी है।

SMS हॉस्पिटल थाना पुलिस ने मिनी बस और जुगाड़ को जब्त कर जांच शुरू कर दी है।

सिर के बल रोड पर गिरी
साड़ी खिचने से वह रोड पर गिर गई। पट्टे और मशीन के बीच सुशीला का सिर फंस गया। एक्सीडेंट के बाद लोगों ने मिनी बस को पकड़ लिया। लोग शोर मचाकर बचाने के लिए दौड़े। काफी मशक्कत के बाद सुशीला का सिर बाहर निकाला। गंभीर हालत में लोगों ने उसे SMS हॉस्पिटल पहुंचाया। जहां डॉक्टर्स ने सुशीला का मृत घोषित कर दिया। हादसे के बाद जुगाड़ चलाने वाला मौके से भाग निकला। मौके पर पहुंची पुलिस ने मिनी बस और जुगाड़ को जब्त कर लिया।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Comment